[मत्स्य] मछली पालन लोन योजना 2019-अनुदान आवेदन फार्म

मछली पालन लोन योजना 2019, मछली/मत्स्य पालन योजना बिहार, राजस्थान, मध्य प्रदेश, मछली पालन लोन योजन ऑनलाइन आवेदन फार्म, मछली पालन लोन योजना अनुदान फॉर्म, एसबीआई फिशरीज़ लोन, Machli /Matsya Palan Loan Yojana.

मछ्ली पालन योजना के बहुत ही ज्यादा पसंद किया जाना वाला व्यवसाय है। खास कर उनके लिए जो मछ्ली खाना पसंद करते है । हम जानते है की बहुत से एसे लोग है जो मछली के काफी शौकीन होते है। बस इसी शौक को पूरा करने के लिए वह इसे एक व्यवसाय के रूप मे चुन लेते है जिससे की वह पैसे भी कमा सकते है। मछली पालन योजना को इंग्लिश मे फिश फ़ार्मिंग के नाम से भी जाना जाता है। परंतु आज हम आपको मछ्ली पालन लोन योजना की हिन्दी मे जानकारी देने जा रहे है। ताकि आपको यह जल्दी और अच्छे से समझ मे आ सके।

मछली पालन लोन योजना

हमारे देश के लगभग 50% लोग एसे है जो मछली को खाने मे पसंद करते है। मछली हमारे शरीर के लिए बहुत ही अच्छी होती है। मछली हमारे शरीद मे खुल के केलोस्ट्रोल को भी कम करती है। मछली ही ईएसए व्यंजन है जिसमे की प्रोटीन की मात्रा सबसे अधिक पाई जाती है। तो आप भी मछली पालन के तहत अपना खुद का व्यवसाय शुरू कर सकते है। और मछली को बाजार मे अच्छी कीमत पर बेच भी सकते है। आप मछली के व्यवसाय को शुरू करने के लिए लोन भी ले सकते है। तो आइये जाने कैसे आप मछली पालन योजना के तहत कैसे और क्या करके लाभ ले सकते है और लोन के लिए आवेदन कर सकते है।

मछली पालन लोन योजना 2019

जो भी लोग इस व्यवसाय से जुड़ना चाहते है उनके लिए यह जानना बेहद जरूरी होता है की मछली पालन लोन योजना क्या है। और कैसे आप इसके तहत लाभ ले सकते है। और यदि आप लोन के लिए आवेदन करना चाहते है तो उसके लिए आपको क्या करना होगा। जैसा की आपको पता है की मछली पालन लोन योजना के तहत सरकार भी इसमे युवाओ को मदद कर रही है। उनको इस योजना के तहत कम डरो पर बैंको से ऋण भी उपलब्ध कारव रही है। तो आइये जाने कैसे आप सरकार की इस मदद से अपने व्यवसाय की शुरुआत कर सकते है।

मछली पालन लोन योजना के फायदे

इस योजना से जुड़ कर आपको बहुत ही लाभ और फायदे होने वाले है। जिसकी जानकारी इस इस प्रकार से है :

पहले तो मछली पालन लोन योजना के शूर होने से बहुत से युवा इस योजना से जुड़ कर अपना व्यवसाय खोल सकते है। जिससे की इससे बेरोजगारी पर भी अंकुश लगेगा।
इस योजना के तहत सरकार की तरफ से पहले मछली पालन के लिए युवाओ को प्र्शिक्षण दिया जाएगा। तभी आप इस योजना के तहत खुद का व्यवसाय शुरू कर सकते है।
युवाओ को राज्य सरकार प्र्शिक्षण देने के लिए या तो उनकी ग्राम पंचायत मे पढ़ी बेकार जमीन के तालाब के पट्टे पर या फिर उनकी खुद की जमीन मे तालाब बना कर प्र्शिक्षण देगी।
इससे युवाओ को बहुत ही लाभ होने वाला है। यह कम पैसो मे शुरू होने वाला एक व्यवसाय है।

मत्स्य पालन लोन योजना के लिए पात्रता

  1. मछली पालन लोन योजना के तहत व्यवसाय शुरू करने के लिए आपके पास किसी खास पात्रता की जरूर नहीं है।
  2. और मत्स्य पालन लोन योजना के तहत आवेदन के लिए आपके पास शैक्षणिक योग्यता की भी जरूरत नहीं है।
  3. इस योजना के तहत हर वर्ग हा व्यक्ति आवेदन कर सकता है। इसमे आयु सीमा की भी कोई जरूरत नहीं है।
  4. बस मछली पालन लोन योजना के तहत व्यवसाय को शुरू करने के लिए आपको मत्स्य विभाग की तरफ से मछली पालन का प्र्शिक्षण लेना जरूरी है।
  5. जब आप मछली पालन का प्र्शिक्षण लेंगे तो मत्स्य पालन विभाग की तरफ से आपको हर दिन 100 रुपए प्र्शिक्षण भत्ता दिया जाएगा।

मछली पालन लोन योजना की महत्वपूर्ण जानकारी/अनुदान राशि

इस योजना के तहत किसानो को उनके ग्राम पंचायत मे ही 5 से 10 साल तक पट्टे पर तालाब दिये जाता है। और इस पट्टे मे ही उन किसानो से मछली पालन करवाया जाता है। जिसके लिए सरकार भी आपको आर्थिक सहायता प्रदान करती है।

तालाब सुधार के लिए सहायता :- इस योजना के तहत मछली पालने के लिए जिस तालाब को उपयोग किया जात है उसकी मरमत के लिए सरकार सहायता प्रदान करती है। आप इस सहायता दे तालाब की गहराई , बांध बना सकते हा। आउटलेट और इन लेट आदि की कार्यवाही करवा सकते है। इस सभी कार्यो के लिए आपको सरकार की तरफ से 60 हजार रुपए प्रति हाइक्टेयर के हिसाब से ऋण दिया जाता है। और इस ऋण पर आपको 20% तक अनुदान भी दिया जाता है।

खाद्य खुरख बीज के लिए अनुदान : मछली पालन लोन योजना के तहत आपको राज्य सरकार की तरफ से मछली की खुराक के लिए ऋण दिया जाता है। इसमे आपको बैंक की तरफ से 30 हजार रुपए का ऋण दिया जाएगा। और इस पर भी आपको 20% अनुदान राशि सरकार द्वारा दी जाएगी।

मछली पालन लोन योजना के लिए जरूरी दस्तावेज़

  • आवेदक का एफ़िडेविट ।
  • इकरारनामा ।
  • एक इकरारनामा मछली पालक और ग्राम पंचायत अधिकारी के बीच का ।
  • तालाब के जमीन की नकल ।
  • आवेदक की दो फोटो।
  • पट्टा राशि की रसीद।
  • प्र्शिक्षण प्रमाण पत्र ।

मछली पालन योजना मे मछली की किस्मे

इस योजना के तहत आप मुख्य रूप से 6 प्रकार की मछलियो को पाल सकते है। जिसमे की है :-

  1. भारतीय मेजर कापर रोहू ।
  2. कतला ।
  3. मृगल ।
  4. विदेशी मेजर कापर ।
  5. सिल्वर कापर ।
  6. ग्रास कापर ।
  7. कामन कापर।

मछली पालन योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन

अगर आप भी मछली पालन लोन योजना के तहत लाभ लेना चाहते है तो आपको भी लोन के लिए आवेदन करना होगा। आप मत्स्य विभाग मे मछली पालन  योजना के लिए आवेदन कर सकते है । उसके बाद ही आप मछली पालन के तहत खुद का स्वरोजगार शुरू कर सकते है। लेकिन आवेदन से पहले आप यह जरूर जांच के ले की आप इस योजना के तहत आवेदन कर सकते है या नहीं। और अगर आप पात्र है तभी आपको इस योजना के तहत अनुदान की राशि भी दी जाएगी।

SBI फिशरीज़ लोन

आप मछली पालन लोन योजना के तहत स्टेट बैंक को इंडिया के तहत उनकी विशेष योजना के तहत मत्स्य पालन ऋण योजना के तहत लाभ ले सकते है। आप लोन प्राप्त करने के बाद खुद के जमीन पर भी तालाब बना कर इस व्यवसाय को शुरू कर सकते है। तो अगर आप भी एसबीआई से मछली पालन लोन के लिए आवेदन करना चाहते है तो आपको अपने किसी भी नजदीकी शाखा मे संपर्क करना होगा।

एसबीआई फिशरीज़ लोन के आवेदन के लिए: क्लिक करे

तो पाठको हमने आपको मछली पालन लोन योजना के बारे मे सारी जरूरी जानकारी दे दी है। हम चाहते है की आप सभी इस योजना के तहत अपना व्यवसाय शुरू कर अपना लाभ कमा सकते है। आपको हमारे द्वारा दी गई जानकारी कैसी लगी, हमे बताना ना भूले। आप इस पोस्ट को शेयर भी कर  सकते है।

Share This Post on

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *