[इंटरकास्ट] अंतरजातीय विवाह प्रोत्साहन योजना महाराष्ट्र 2019 फार्म pdf

अंतरजातीय विवाह प्रोत्साहन योजना महाराष्ट्र 2019, आंतरजातीय विवाह योजना महाराष्ट्र फार्म pdf, आंतरजातीय विवाह कागदपत्रे, महाराष्ट्र अंतरजातीय विवाह अनुदान योजना, अंतरजातीय विवाह योजना महाराष्ट्र ऑनलाइन अप्लाई, महाराष्ट्र विवाह प्रोत्साहन योजना 3 लाख रुपए अनुदान एप्लिकेशन फॉर्म, Maharshtra inter-caste Marriage benefits in Marathi.

आज हम आपको महाराष्ट्र अंतरजातीय विवाह योजना 2019 की जानकारी देने जा रहे है। जैसे की हम सभी जानते है , आज हम एसे दौर से गुजर रहे है अपने जीवन साथी का चुनाव अब खुद ही कर रहे है। एसे मे कई बार हम लोग देखते है की जब कोई किसी अन्य जाति के जीवन साथी का चुनाव करते है तो उन्हे किस स्थिति से गुजरना पड़ता है। क्योकि हमारे देश मे अभी भी जातियो को लेकर भेदभाव किया जाता है। अगर कोई ऊंची जाति का किसी नीची जाति के साथी से शादी करता है तो उन्हे कितनी मुश्किल दौर से गुजरना पड़ता है। उनके परिवार के लोग और समाज मे कोई भी उनका साथ नहीं देता है।

एसे मे जातियो मे भेदभाव को कम करने के लिए और आजकल के नवयुवको को प्रोत्साहित करने के लिए ही महाराष्ट्र की राज्य सरकार ने अंतरजातीय विवाह योजना को शुरू किया है। ताकि अगर कोई भी युवक या युवती अपनी जाति से बाहर की जाति मे शादी करती है तो उन्हे किसी भी प्रकार की कोई मुश्किल ना हो। तो हम आपको इस आर्टिक्ल के जरिये बताएँगे की कैसे आप इस योजना के तहत लाभ ले सकते है और आवेदन कर सकते है। तो आइये जानिए महाराष्ट्र अंतरजातीय विवाह योजना ।

अंतरजातीय विवाह प्रोत्साहन योजना महाराष्ट्र 2019

महाराष्ट्र की राज्य सरकार ने यह योजना बहुत ही अच्छी चलाई है। इस योजना के तहत आगर कोई भी ऊंची जाति का युवक एवं युवती किसी भी नीची/पिछड़ा वर्ग की युवक और युवती से शादी करते है तो उन्हे इस योजना के तहत लाभ दिया जाएगा। शादी के बाद उन्हे प्रोत्साहन राशि रुपए 3 लाख रुपए दिये जाएंगे। महाराष्ट्र की राज्य सरकार सभी जातियो मे होने वाले भेदभाव को कम करती है। तो हम आपको पहले बताते है की अंतरजतीय विवाह होता क्या है।

अंतरजातीय विवाह/inter-caste Marriage

दोस्तो योजना से पहले आपको यह जानना भी जरूरी है की अंतरजातीय विवाह होता क्या है,। वैसे तो सभी अंतरजतीय विवाह को एक प्रेम विवाह की दृशी से ही देखते है। परंतु कई लोग अपनी ही जाति मे प्रेम विवाह करते है तो वो सोचते है की उन्हे भी इस योजना के तहत लाभ मिलेगा। तो एसा नहीं है। अगर आप अपनी ही जाति मे विवाह करते है तो आपको इस योजना के तहत कुछ भी नहीं मिलेगा।

अंतरजातीय विवाह प्रोत्साहन योजना महाराष्ट्र

अंतरजातीय विवाह मतलब कोई भी युवक या युवती अपनी जाति के बाहर जाकर , अपने से किसी नीची जाति एवं पिछड़ा वर्ग के युवक और युवती से शादी करते है तो उन्हे इस योजना के तहत लाभ दिया जाता है। इसे अंतरजातीय विवाह योजना कहते है।

महाराष्ट्र अंतरजातीय विवाह योजना के तहत मिलने वाली प्रोत्साहन राशि

हम सभी जानते है जब भी कोई प्रेम विवाह के तहत अंतरजातीय विवाह को देखते है तो उन्हे अपने परिवार और समाज से कई प्रकार की यातनाओ का सामना करना पड़ता है। तो जब उन्हे यह सब देख कर घर से बाहर भागना पड़ता है तो उन्हे सबसे ज्यादा जरूरत पैसो की होती है। यह यह पैसा उन्हे अब राज्य सरकार देगी। ताकि उन्हे अपने नए जीवन की शुरुआत के लिए किसी भी प्रकार की कोई मुश्किल का सामना ना करना पड़े। और इस योजना के तहत नई जोड़े को इस योजना के तहत 50 हजार रुपए की धनराशि दी जाएगी।

और इस योजना के तहत अंबेडकर फ़ाउंडेशन की तरफ से एक और प्रोत्साहन राशि दी जाएगी। यह राशि होगी रुपए 2.50 लाख रुपए। तो कुल मिलाकर इस योजना के तहत आपको 3 लाख रुपए का फाइदा होने वाला है।

महाराष्ट्र अंतरजातीय विवाह योजना के लाभ

  1. इस योजना का लाभ पहले तो यह है की सभी जातियो को एक समान लाना है। ताकि समाज मे किसी भी जाति का कोई असम्मान ना हो ।
  2. सभी मे एकता और समानता लाने का प्रयास इस योजना के तहत किया जा रहा है।
  3. अब सभी युवा अपने पसंद के जीवन साथी का चुनाव बिना किसी रुकावट के कर सकते है।
  4. इस योजना के तहत नई युवा पीढ़ी को नई ज़िंदगी के लिए 3 लाख रुपए की प्रोत्साहन राशि दी जाएगी।
  5. इन पैसो से वह अपने जीवन की नई शुरुआत बहुत ही अच्छे से कर सकते है। यह राशि बहुत ही अधिक है अगर किसी ने अपने जीवन की नई शुरुआत करनी हो तो।

महाराष्ट्र इंटरकास्ट विवाह योजना के लिए पात्रता

  1. यह योजना केवल महाराष्ट्र के युवक और युवतियो के लिए है।
  2. इस योजना के तहत लाभ लेने के लिए लड़की की आयु 18 साल और लड़के की आयु 21 साल से ऊपर होनी चाहिए।
  3. इस योजना मे जोड़े मे से एक का सामान्य वर्ग और एक का नीची जाति एवं पिछड़ा वर्ग से होना जरूरी है।
  4. इस योजना मे अगर कोई सामान्य वर्ग का युवक एवं युवती अपनी जाति से नीची जाति मे शादी करते है तो उन्हे इस योजना के तहत लाभ दिया जाएगा।
  5. इस योजना के आवेदन से पूर्ण दोनों की कौर्ट मैरेज हो जानी चाहिए ।

महाराष्ट्र अंतरजातीय विवाह योजना के लिए कागदपत्रे

  • दंपति का आधार कार्ड ।
  • दोनों का आयु प्रमाण पत्र।
  • दोनो का जाति प्रमाण पत्र ।
  • दोनों की एक फोटो हाल ही मे ली हुई ।
  • शादी का प्र्मान पत्र ।
  • दोनों का जाइंट खाता बैंक मे।

महाराष्ट्र अंतरजातीय विवाह योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन फॉर्म

  1. अगर आपको लगता है की आपको भी इस योजना का लाभ मिलेगा तो आपको इस योजना के तहत ऑनलाइन आवेदन करना है।
  2. आवेदन के लिए आपको सबसे पहले इस योजना की आधिकारिक वैबसाइट पे जाना होगा जोकि है।
  3. अब यहा पर आपको अंतरजातीय विवाह योजना का एक आवेदन फॉर्म दिखाई देगा।
  4. इस फॉर्म को ध्यान से पढ़िये और भर कर सबमिट कर दीजिये।
  5. आप इस योजना के साथ अपने सारे जरूरी दस्तावेज़ को भी सबमिट कर दीजिये।

तो दोस्तो हमने आपको अपनी तरफ से महाराष्ट्र अंतरजातीय विवाह योजना 2019 की पूरी जानकारी देने की कोशिश करी। अगर आपको इस विषय और भी कोई जानकारी चाहिए तो आप ले सकते है। हम आपको उत्तर अवशय देंगे। पोस्ट को शेयर जरूर करे।

 

Share This Post on

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *