[मातृत्व वंदना] गर्भावस्था सहायता योजना | 6 हजार रु – रजिस्ट्रेशन

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना, गर्भावस्था सहायता योजना, गर्भवती सहायता योजना 6 हजार रु, गर्भावस्था सहायता योजना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन, गर्भवती महिला योजना फॉर्म online, गर्भवती महिलाओं के लिए आर्थिक सहायता योजना, प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना online form, Pradhan Mantri Matritva Vandana Yojana.

यह हम सभी जानते है की भारत के वर्तमान प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने हर वर्ग की जनता के लिए कई प्रकार की योजनाओ की शुरू की हुई है। वरिष्ठ नागरिकों के लिए उन्होने कई प्रकार की पेंशन योजनाओ को शुरू किया है तो युवाओ के लिए उन्हे बेरोजगारी भत्ता और कई प्रकार की योजनाए चलाई है। महिलाओ के को सशक्त बनाने के लिए भी उन्होने पूरे भारत के राज्य मे हर प्रकार की योजनाओ को शुरू किया हुआ है। इसी प्रकार भारत की महिलाओ के लिए उन्होने वैसे तो 31 दिसंबर 2016 को 6000 रुपए की गर्भावस्था सहायता योजना को शुरू किया हुआ है। परंतु कई महिलाए अभी भी एसी है जिनहे अभी तक इन योजनाओ के बारे मे सम्पूर्ण रूप से जानकारी नहीं है। तो आइये अधिक जाने इस गर्भावस्था सहायता योजना 6000 रुपए के बारे मे ।

इस योजना को केंद्र सरकार ने सभी राज्याओ मे शुरू किया हुआ है। इस योजना के तहत प्रसूता मृत्यु दर मे कमी लाने के लिए ही शुरू किया हुआ है। इस योजना के तहत महिलाओ को उनके गर्भावस्था के दौरान  6 हजार रुपए की आर्थिक साहयता दी जाएगी। और यह वित्तीय सहायता सीधे उनके बैंक खाता मे दे दी जाएगी। यह एक बहुत ही अच्छी योजना है। जिसका लाभ सभी को लेना चाहिए ।

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना

पहले इस योजना को गर्भावस्था सहायता योजना के रूप मे जाना जाता था।  परंतु अब इस नाम को बदल कर मातृत्व वंदना योजना कर दिया गया है। इस योजना के तहत जो भी औरत गर्भावस्था मे है और इस समय अपने बच्चे को अपना दूध पिलाती है उसे इस योजना के तहत प्रोत्साहन राशि दी जाती है। और यह प्रोत्साहन योजना 6000 रुपए है।

गर्भावस्था सहायता योजना

अगर आप इस योजना को गूगल मे सर्च करते है तो कई बार इस योजना के नाम के आगे प्रधानमंत्री या फिर मुख्यमंत्री लिखा होगा। यह इसलिए ताकि योजना का नाम और आकर्षित लग सके। वैसे तो यह सारी राशि महिला को दी जाएगी। लेकिन यह राशि एक बार मे ही नहीं मिलेगी। इसके लिए भी सरकार ने कुछ नियम बनाए है ताकि समय समय ओर इस राशि का भुगतान किशत के रूप मे हो।

गर्भावस्था सहायता योजना 6000 रुपए का उद्देश्य एवं लाभ

हर योजना को शुरू करने के लिए कई प्रकार के उद्देश्य एवं लाभ सरकार की तरफ से सामने लाये जाते है। यह हम सभी जानते है की गर्भावस्था के समय एक औरत कोबाकी लोगो से ज्यादा देखभाल की जरूरत होती है। ताकि उसकी और उसके आने वाले बच्चे की तंदरुस्ती बने रहे। इस योजना का मुख्य उद्देश्य संस्थागत प्रसव को बढ़ावा देना है । और प्रसूता और शिशु मौत दर को और कम करना है। इस योजना अभी तक भारत के सभी राज्य के हर जिले मे शुरू कर दिया गया  है।

यह हम सभी जानते है की प्रसव के दौरान भारत मे कितने शिशुओ और महिलाओ की मौत हो जाती है। कुछ बच्चे तो जन्म के समय से ही कुपोषण का शिकार हो जाते है। क्योकि उनकी माता को समय पर सही खुराक नहीं मिलती है। महिलाओ को समय पर सही खुराक और दवाई मिल जाये इस लिए इस योजना के तहत उन्हे आर्थिक साहयता प्रदान की जाती है।

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना 6000 रुपए की राशि का भुगतान 

इस योजना के तहत पहले तो गर्भवती महिलाओ को 6 हजार रुपए की आर्थिक साहयता केंद्र सरकार द्वारा दी जाएगी। परंतु यह राशि का भुगतान आपको गर्भ धारण के समय से लेकर बच्चे के जन्म तक  किया जाएग। या फिर हम कहे तो आपको इस राशि का भुगतान किश्तों मे किया जाएगा।

पहली किशत : पहली किशत आपको आपके गर्भ धरण के समय 1 हजार रुपए की दी जाएगी।

दूसरी किशत : जब आपका गर्भ 6 महीने का हो जाएगा और आप अपने जांच के लिए जाते है तो आपको दूसरी किशत 2 हजार रुपए की जारी की जाएगी।

तीसरी किशत : तीसरी किशत का भुगतान 3 हजार रुपए बच्चे के जन्म के समय आपको दिये जाएंगे ।

प्रधानमंत्री गर्भावस्था सहायता योजना 6000 रुपए के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन फॉर्म

तो जो भी महिलाए अभी तक इस योजना के बारे मे नहीं जानती थी हम चाहते है की सभी महिलाओ को इन योजनाओ की जानकारी हो। तो जो भी महिलाए 6000 रुपए की गर्भावस्था योजना के तहत लाभ लेना चाहती है तो समय से ही इस योजना के लिए आप आवेदन कर दे। जिसके लिए आपको अपने पास के आंगनबाड़ी केंद्र मे जाना होगा। आंगनबाड़ी के कार्यकर्ता ही आपके एप्लिकेशन फॉर्म को भरेंगे।

अगर आप इस योजना के बारे मे और कोई जानकारी चाहते है तो आप कमेंट बॉक्स मे कमेंट कर सकते है। और आप अपने विचार सुझाव भी कमेंट बॉक्स मे दे सकते है। कृपया इस पोस्ट को शेयर करे, ताकि सभी को इस योजना के बारे मे जानकारी हो। 

Share This Post on

One comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *